clash on china border

भारत- चीनी सैनिकों में हिंसक झड़प, भारतीय सेना के एक अफसर और दो जवान शहीद

भारत और चीन सीमा पर पिछले कई दिनों से जारी विवाद के बीच दोनों देश के सैनिकों के बीच सोमवार की रात हिंसक झड़प हुई है। इस झड़प में भारतीय सेना के एक अफसर और दो जवान शहीद हो गये हैं। हालांकि चीन ने आरोप लगाया है कि भारतीय सैनिकों ने हमारी सीमा में घुसकर हमारे ऊपर हमला किया था।

यह हिंसक झड़प लद्दाख बॉर्डर पर गलवान घाटी के पास हुआ है। इस क्षेत्र में चीनी सेना की तरफ से भारी संख्या में सुरक्षा बलों की तैनाती की गई है। जिस पर भारत ने आपत्ति जताते हुए इन सैनिकों को पीछे हटने को कहा था। इस गतिरोध को लेकर पिछले कई दिनों से दोनों देश के बीच बातचीत हो रही थी। छह जून को लेफ्टिनेंट जनरल लेवल तक के अफसरों के बीच बातचीत हुई थी जिसके बाद दोनों देश की सेना कुछ किलोमीटर पीछे हटी थी।

कहा जा रहा है कि सोमवार रात को हुई इस झड़प में चीन को भी नुकसान हुआ है और उसके भी सैनिक मारे गये हैं, हालांकि चीनी मीडिया ने इसकी पुष्टि नहीं की है। इससे पहले 1975 पर LAC पर फायरिंग हुई थी, जिसमें चार भारतीय जवान शहीद हुए थे, 45 साल बाद हिंसक झड़प में भारतीय सैनिकों की जान गई है।

क्या है पूरा विवाद
चीन की तरफ से LAC रेखा को अलग माना जाता है जबकि भारत LAC को अलग रेखा तक लेकर चलता है। इसी वजह से पिछले 50 साल से भारत और चीन के बीच विवाद की स्थिति बनती रहती है। मई के महीने में चीनी सैनिकों ने LAC को पार कर लिया था और गलवान घाटी के पास करीब 5000 सौनिकों की तैनाती कर दी थी। जिसके बाद दोनों देशों के बीच तनाव बढ़ गया था।