ADR REPORT

बिहार के सीएम आवास में कोरोना ने दी दस्तक, मुख्यमंत्री की भतीजी मिली पॉजिटिव, राज्य में 385 नये मामले

कोरोना वायरस (Corona Virus) ने बिहार के सीएम आवास में दस्तक दे ही है। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (Nitish Kumar) की भतीजी कोरोना पॉजिटिव पाई गई है, जिसके बाद हड़कंप मच गया है । एक अणे मार्ग स्थित सीएम आवास (CM House) को सैनिटाइज किया जा रहा है। वहीं सीएम की भतीजी को इलाज के पटना एम्स के कोवि़ड- 19 आइसोलेशन वार्ड में भर्ती कराया गया है। परिवार के अन्य सदस्यों को होम क्वारंटाइन कर उनका सैंपल लिया जा रहा है। सीतामढ़ी जिले के परिहार विधायक और उनके पति पूर्व विधायक समेत परिवार के सात लोग भी कोरोना के शिकार हुए हैं। वहीं पिछले 24 घंटे में राज्य में 385 नये मरीज मिले हैं, जिसके बाद राज्य में कोरोना के मरीजों की संख्या 12525 पहुंच गई है। 9338 लोगों को ठीक होने के बाद डिस्चार्ज किया जा चुका है, जबकि इस वायरस से 98 लोगों की मौत हुई है।

बता दें कि विधान परिषद के सभापति अवधेश नारायण सिंह के कोरोना पॉजिटिव पाये जाने के बाद चार जुलाई को सीएम नीतीश कुमार, डिप्टी सीएम सुशील कुमार मोदी और विधानसभा अध्यक्ष विजय चौधरी की कोरोना जांच कराई गई थी, इन सभी की रिपोर्ट निगेटिव आई थी।

स्वास्थ्य विभाग के तरफ से जारी आंकड़े के मुताबिक  अरवल में दो, अररिया में तीन, बांका में 11, भागलपुर में 26, भोजपुर में सात, बक्सर में चार, दरभंगा में एक,  पूर्वी चंपारण में 11, गया में 29, गोपालगंज में तीन, जमुई में दो, जहानाबाद में आठ,  कैमूर में एक, कटिहार में 24, खगड़िया में दो, किशनगंज में सात, लखीसराय में पांच, मधेपुरा में दो, मधुबनी में 25, मुंगेर में 30, मुजफ्फरपुर में 15, नालंदा में दो, नवादा में सात,  पटना में 56, पूर्णिया में चार, रोहतास में दो, सहरसा में तीन, समस्तीपुर में आठ, सारण में 14, शेखपुरा में 10, सीतामढ़ी में 13, सीवान में 19, सुपौल में 21, वैशाली में दो और पश्चिमी चंपारण में तीन नये मरीज मिले हैं।

बिहार में पिछले 24 घंटे में 5168 सैंपल की जांच हुई है, अब तक कुल 2,69,277 सैंपल की जांच की गई है। राज्य में 3088 एक्टिव केस हैं, जबकि रिकवरी रेट 74.55 फीसदी है। पिछले 24 घंटे में राज्य में 324 मरीज स्वस्थ हुए हैं।

तेजस्वी यादव ने ट्वीट कर बोला हमला: 

आरजेडी नेता कोरोना को लेकर लापरवाही बरतने पर राज्य सरकार पर निशाना साधा है। बिहार में कोरोना संक्रमण अप्रत्याशित रूप से बढ़ चुका है। सरकार को कहीं कोई चिंता नहीं। ना जाँच की, ना इलाज की। पूरा मंत्रिमंडल, प्रशासन और सरकार चुनावी तैयारियों में व्यस्त है। सरकार आँकड़े छिपा रही है। अगर सरकार नहीं संभली तो अगस्त-सितंबर तक स्थिति और विस्फोटक हो सकती है।

 

राज्य में कहां कितने मरीज:
पटना में 1114, भागलपुर में 643, मधुबनी में 536, बेगूसराय में 528, मुजफ्फरपुर में 511, सीवान में 509, मुंगेर में 449, कटिहार में 389, नालंदा में 386, समस्तीपुर में 385, दरभंगा में 384, रोहतास में 379, नवादा में 371, खगड़िया में 338, पूर्णिया में 317, गोपालगंज में 312, सुपौल में 306, गया में 304, पश्चिमी चम्पारण में 298, भोजपुर में 288, औरंगाबाद में 287, जहानाबाद में 287, सारण में 286, सहरसा में 271, पूर्वी चम्पारण में 271, वैशाली में 247, बांका में 256, बक्सर में 244, मधेपुरा में 225, किशनगंज में 211, कैमूर में 209, शेखपुरा में 180, सीतामढ़ी में 167, लखीसराय में 147, अररिया में 141, अरवल में 127, जमुई में 110 और शिवहर में 101 कोरोना के केस हैं ।