Sachin Pilot

सचिन पायलट पर बड़ी कार्रवाई, डिप्टी सीएम और प्रदेश अध्यक्ष पद से हटाये गये

नई दिल्ली. राजस्थान में जारी सियासी संकट के बीच कांग्रेस पार्टी ने मंगलवार को डिप्टी सीएम और प्रदेश अध्यक्ष सचिन पायलट के खिलाफ बड़ी कार्रवाई की । कांग्रेस ने सचिन पायलट को डिप्टी सीएम और प्रदेश अध्यक्ष पद से बर्खास्त कर दिया गया है। सचिन पायलट सहित तीन मंत्रियों को पार्टी से बर्खास्त किया गया है । वहीं प्रदेश के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने राज्यपाल से मुलाकात कर बर्खास्तगी का पत्र सौंपा है ।

सचिन पायलट के साथ ही उनके समर्थक दो मंत्रियों विश्वेंद्र सिंह और रमेश मीणा पर भी गाज गिरी है, पार्टी ने भी उन्हें भी बर्खास्त कर दिया है । गोविंद सिंह दोतासरा को सचिन पायलट की जगह राजस्थान कांग्रेस को नया अध्यक्ष बनाया गया है। जयपुर में विधायक दल की बैठक में सचिन पायलट का राजस्थान कांग्रेस के अध्यक्ष पद से बर्खास्त करने का फैसला लिया गया, जिसे विधायकों ने सर्वसम्मति से प्रस्ताव पास किया है ।

अशोक गहलोत ने सरकार के पास पर्याप्त बहुमत होने का दावा किया है । अशोक गहलोत अपने साथ 109 विधायकों के समर्थन का दावा किया जा रहा है ।

क्या होगा सचिन पायलट का रूख ?
सचिन पायलट ने हालांकि इस मुद्दे पर अपनी कोई प्रतिक्रिया नहीं आई है । सचिन पायलट पहले ही भाजपा में शामिल नहीं होने की बात कह चुके हैं, ऐसे में चर्चा है कि वह अपनी नई पार्टी बना सकते हैं ।