Bihar corona record case

झारखंड में कोरोना के 324 नये मामले, चार और मौत, मरीजों का आंकड़ा 8803 पहुंचा

रांची. झारखंड में कोरोना वायरस (Corona Virus) के मामले लगातार बढ़ते जा रहे हैं। सोमवार को राज्य के 22 जिले में 324 नये मरीज मिले। रांची में सबसे ज्यादा 104 मरीज मिले हैं। अब राज्य में कोरोना के मरीजों की संख्या 8803 पहुंच गई है।

राज्य स्वास्थ्य विभाग के अनुसार राज्य में कोरोना के 4908 एक्टिव केस हैं। डिस्चार्ज मरीजों की संख्या 3805 है। पिछले 24 घंटे में राज्य में 101 मरीज स्वस्थ हुए हैं, जबकि चार लोगों की मौत हुई है। राज्य में कोरोना वायरस से अब तक 90 लोगों की मौत हुई है।

22 जिले में 324 नये मरीज: 
रविवार को रांची से 104, गुमला से 46, गिरिडीह से 19, खूंटी से 17 और सिमडेगा और रामगढ़ से 16-16 नये मरीज मिले। गढ़वा से 13, धनबाद से 12, पूर्वी सिंहभूम और पश्चिमी सिंहभूम से 10-10 मरीज मिले। इसके अलावा हजारीबाग और जामताड़ा से नौ-नौ, देवघर से आठ, कोडरमा से सात, बोकारो से पांच, सरायकेला से चार, लातेहार, लोहरदगा और चतरा से तीन- तीन, साहिबगंज से दो और पलामू से एक मरीज मिला।

चार मरीजों की मौत:

रांची में दो, पूर्वी सिंहभूम में एक और हजारीबाग में एक मरीज की मौत हुई है।

राज्य में कहां कितने मरीज:
बोकारो में 156, चतरा में 269, देवघर में 157, धनबाद में 494, दुमका में 58, पूर्वी सिंहभूम में 1454, गढ़वा में 418, गिरिडीह में 301, गोड्डा में 109, गुमला में 285, हजारीबाग में 535, जामताड़ा में 63, खूंटी में 67, कोडरमा में 476, लातेहार में 232, लोहरदगा में 228, पाकुड़ में 203, पलामू में 252, रामगढ़ में 338, रांची में 1670, साहेबगंज 166, सरायकेला में 207, सिम़डेगा में 423 और पश्चिमी सिंहभूम में 232 ।

स्वस्थ हुए:
बोकारो में 86, चतरा में 158, देवघर में 84, धनबाद में 179, दुमका में 34, पूर्वी सिंहभूम में 518, गढ़वा में 196, गिरिडीह में 140, गोड्डा में 19, गुमला में 103, हजारीबाग में 286, जामताड़ा में 36, खूंटी में 36, कोडरमा में 253, लातेहार में 107, लोहरदगा में 120, पाकुड़ में 79, पलामू में 164, रामगढ़ में 161, रांची में 438, साहिबगंज में 20, सरायकेला में 84, सिम़डेगा में 370 और पश्चिमी सिंहभूम में 134 ।

कहां कितनी मौत:
रांची में 19, धनबाद में 13 ,हजारीबाग में सात, पूर्वी सिंहभूम में 22, गिरिडीह में चार, साहेबगंज में दो, बोकारो में दो, कोडरमा में चार, सरायकेला में चार,  रामगढ़ में दो, खूंटी में एक, गुमला में एक, देवघर में एक, गढ़वा में एक, पश्चिमी सिंहभूम में एक,  गोड्डा में दो, और सिमडेगा में एक।