Sourav Ganguly

खिलाड़ियों को उम्र छिपाना पड़ेगा महंगा, बीसीसीआई लगा सकता है इतने साल का बैन

उम्र में धोखाधड़ी कर टीम में जगह बनाने वाले खिलाड़ियों को लेकर बीसीसीआई (BCCI) अब सख्त हो गई है। बीसीसीआई (BCCI)  अब उम्र में गड़बड़ी करने वाले खिलाड़ियों पर दो साल का बैन लगा सकती है। नए नियम 2020-21 सीजन में बीसीसीआई (BCCI) के सभी आयुवर्ग के प्रतियोगिता में हिस्सा लेने वाले खिलाड़ियों पर लागू होंगे।

हालांकि अगर कोई खिलाड़ी उम्र संबंधी फर्जी दस्तावेज जमा करने के बाद यह कबूल करता है कि उसने अपनी जन्मतिथि से छेड़छाड़ की है, तो उसे बैन नहीं किया जाएगा। उस खिलाड़ी को संबंधित विभाग से सत्यापन कराते हुए असली जन्मतिथि के दस्तावेज जमा करने होंगे।

आईपीएल 2020 को भारत सरकार से मिली मंजूरी, 19 सितंबर से 10 नवंबर तक यूएई में आयोजन 

वहीं अगर पंजीकृत खिलाड़ी सच्चाई नहीं बताता है तो और उसके दस्तावेज फर्जी पाए जाते हैं तो उसे दो साल के लिए बैन कर दिया जाए और दो साल पूरे हो जाने के बाद इस तरह के खिलाड़ियों को बीसीसीआई के आयु वर्ग के टूर्नामेंट में खेलने नहीं दिया जाएगा। इसरे साथ ही जो खिलाड़ी निवास संबंधी गड़बड़ी करता है, जिसमें सीनियर महिला और पुरुष भी शामिल हैं, उस पर दो साल का बैन लगाया जाएगा।

जॉनी बेयरस्टो की विस्फोटक बल्लेबाजी से दूसरे वनडे मैच में इंग्लैंड की जीत, सीरीज पर कब्जा 

बीसीसीआई अध्यक्ष सौरभ गांगुली (Bcci President Sourav Ganguly) ने कहा कि बीसीसीआई उम्र संबंधी फर्जीवाड़े को रोकने के लिए काफी कदम उठा रही है और अब उसने आने वाले सीजन के लिए अधिक सख्त नियमों को लागू कर दिया है, जो लोग अपने आप अपनी गलती नहीं मानेंगे उन्हें कड़ी सजा दी जाए।