Categories

September 26, 2022

Boundary Line Newsportal

News Innovate Your World

तेजस्वी यादव ने बेरोजगारी के मुद्दे पर नीतीश कुमार से पूछे 17 सवाल, कहा- मुंह ना छिपायें, जवाब दें

1 min read
Bihar Mlc election results

Nitish Kumar and Tejashwi Yadav (Photo-Social media)

पटना. बिहार विधानसभा चुनाव (Bihar Assembly Election) को लेकर सभी राजनीतिक दलों ने कमर कस ली है. आरजेडी नेता तेजस्वी यादव (Tejashwi Yadav) ने एक बार फिर बिहार के सीएम नीतीश कुमार (Bihar CM Nitish Kumar) को अपने निशाने पर लिया है. तेजस्वी यादव (Tejashwi Yadav) ने बेरोजगारी के मुद्दे पर नीतीश कुमार (Nitish Kumar) से 17 सवाल पूछे हैं. तेजस्वी यादव ने कहा है कि नीतीश कुमार जी (Nitish Kumar) बेरोज़गारी के मुद्दे पर मुंह ना छिपाए, बिहार के 7 करोड़ युवाओं के सीने में धधक रहे इन ज्वलंत सवालों का जवाब दें।

तेजस्वी यादव (Tejashwi Yadav) अक्सर कई मुद्दों को लेकर सीएम नीतीश कुमार और एनडीए को घेरते रहे हैं. सोशल मीडिया के माध्यम से वह लगातार कई मुद्दों पर सवाल उठाते रहते हैं. बुधवार को तेजस्वी यादव (Tejashwi Yadav) ने फेसबुक के जरिये सीएम नीतीश कुमार से 17 सवाल पूछे.  तेजस्वी यादव (Tejashwi Yadav) ने फेसबुक पोस्ट के जरिये कहा है कि आदरणीय नीतीश कुमार जी बेरोज़गारी के मुद्दे पर मुँह ना छिपाए, बिहार के 7 करोड़ युवाओं के सीने में धधक रहे इन ज्वलंत सवालों का जवाब दें। अगर जवाब नहीं देते है तो इस चुनाव में युवा करारा जवाब देंगे।

बिहार विधानसभा चुनाव: शेखपुरा जिले की दोनों सीटों पर होगी कांटे की टक्कर 

तेजस्वी यादव के सवाल:
1. देश में सबसे अधिक बेरोज़गारी बिहार में क्यों है? 15 वर्षों की एनडीए सरकार बताए कि बिहार में IT कंपनियाँ क्यों नहीं बुलाई गयी? क्यों नहीं आयी और क्यों नहीं आ सकती ? बिहार में आईटी पार्क और SEZs क्यों नहीं बन सकते?

2. बिहार में केला, मकई, मखाना, चावल, गन्ना, आलू, लीची, आम इत्यादि अनेकों विश्व प्रसिद्ध अनाज, फल, सब्ज़ियों का इतना उत्पादन होता है तो फिर इन सभी से संबंधित खाद्य प्रसंस्करण उद्योग 15 वर्षों में क्यों नहीं लगाए गए और क्यों नहीं लग सकते ? 15 वर्षों की सरकार जवाब दें?

3. बिहार दूसरे प्रदेशों जैसे आंध्र प्रदेश से मछली ख़रीदता है ? 15 वर्षों की सरकार बताए कि हम बिहार तमाम मछली उत्पादन संबंधित संसाधन होने के बावजूद यहाँ ऐसी व्यवस्था क्यों नहीं कर सकते? बिहार में मछली उत्पादन को बढ़ावा देकर, यहाँ ज़िलावार मछली बाज़ार लगाकर मछुआरों की आमदनी और उत्पादन क्यों नहीं बढ़ा सकते?

4. 15 वर्षों की नीतीश सरकार बताए, बिहार में इंडस्ट्री स्पेसिफ़िक क्लस्टर क्यों नहीं लगाए जा सकते?

5. 15 वर्षों की सरकार बताए, बिहार में डेयरी प्रॉडक्ट्स यानि दुग्ध उत्पादन संबंधित बड़े उद्योग क्यों नहीं लगाए जा सकते? बिहार का दूध, घी, मक्खन, चीज, पनीर, खोया इत्यादि दूसरे प्रदेशों और देशों में क्यों नहीं भेजा जा सकता?

6. 15 वर्षों की सरकार बताए, उन्होंने बुनकर उद्योग, लघु उद्योग और हथकरघा उद्योग के लिए क्या किया? बड़े पैमाने पर इन उद्योग़ो को बढ़ावा क्यों नहीं दिया जा रहा?

7. बिहार में पर्यटन की असीम संभावनाएँ हैं। 15 वर्षों की सरकार बताए उन्होंने बिहार को अबतक पर्यटन केंद्र के रूप में विकसित क्यों नहीं किया?

8. सरकार विभिन्न विभागों में लंबित साढ़े चार लाख से अधिक रिक्तियों पर नियुक्तियाँ क्यों नहीं करती?

9. 15 वर्षों की सरकार नियुक्ति, भर्ती परीक्षा और प्रक्रिया को पारदर्शी तथा नियमित क्यों नहीं करती?

10. सरकार बिहार के स्थायी निवासियों के लिए 90 फ़ीसदी नौकरी आरक्षित करने का प्रावधान करने वाली हमारी डोमिसाइल नीति की माँग स्वीकार क्यों नहीं करती?

11. 15 वर्षों की सरकार बताए कि आपने 15 वर्षों में बिहार मेंकुल कितनी नौकरियाँ प्रदान की?‬‬‬

12. 15 वर्षों में हुई कुल नियुक्तियों का ज़िलावार और वर्गवार आँकड़ा प्रस्तुत करे?‬

13. 15 वर्षों में बिहार से कुल कितना पलायन हुआ? बिहार में अप्रत्याशित दर से पलायन क्यों बढ़ रहा है?

14. 15 वर्षों में बिहार में कुल कितने उद्योग-धंधे और कल-कारख़ाने लगे?

15. 15 वर्षों में पहले से चालू कितनी चीनी मिल, जूट मिल, पेपर मिल एवं दूसरे उद्योग और कारख़ाने बंद हुए और उससे बिहार को कुल कितने राजस्व व रोज़गार के अवसरों की हानि हुई?

16. 15 वर्षों में बिहार का कुल कितने लाख करोड़ शिक्षा और चिकित्सा के नाम पर दूसरे प्रदेशों में गया?

17. बिहार के मानव संसाधन का कुल कितने प्रतिशत बिहार में और दूसरे प्रदेशों में कार्यरत है ?

सवाल के अंत में तेजस्वी यादव (Tejashwi Yadav) ने लिखा है कि आशा है बिहार के करोड़ो बेरोज़गार युवाओं के भविष्य से संबंधित इन अतिआवश्यक सवालों का जवाब मुख्यमंत्री और उपमुख्यमंत्री अवश्य देंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.