Categories

January 19, 2022

Boundary Line Newsportal

News Innovate Your World

बिहार कांंग्रेस के वरिष्ठ नेता सदानंद सिंह का निधन, राजनीतिक गलियारों में शोक की लहर

1 min read
Sadanand Singh

Sadanand Singh (Photo-twitter)

पटना. बिहार कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और पूर्व विधानसभा अध्यक्ष सदानंद सिंह का निधन (Sadanand Singh Death) हो गया है. सदानंद सिंह पिछले कई दिनों से बीमार थे और पटना के अस्पताल में उनका इलाज चल रहा था. सदानंद सिंह (Sadanand Singh) के निधन (Sadanand Singh Death) से राजनीतिक गलियारों में शोक की लहर है. बिहार के सीएम नीतीश कुमार ने उनके निधन पर शोक जताया है.

सदानंद सिंह (Sadanand Singh) मूल रूप से भागलपुर के रहने वाले थे.  भागलपुर की कहलगांव सीट से वह नौ बार विधायक चुने गये थे.

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने अपने शोक संदेश में कहा कि सदानंद सिंह अनुभवी राजनेता थे. मेरे उऩसे व्यक्तिगत संबंध थे, उनके निधन से मैं मर्माहत हूं. बिहार की राजनीति में उनका अहम योगदान था, उनके निधन से राजनीतिक और सामाजिक क्षेत्र में अपूरणीय क्षति हुई है.

सदानंद सिंह का राजनीतिक सफर:

सदानंद सिंह (Sadanand Singh) 1969 से राजनीत‍ि में सक्र‍िय थे. वह पहली बार 1972 में चुनाव लड़े और विधायक बने, उसके बाद लगातार चार बार विधायक रहे. वह बिहार कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष के अलावा बिहार विधानसभा के अध्यक्ष भी रह चुके थे. साल 2000 से 2005 तक वह वह बिहार विधानसभा के अध्यक्ष थे, इसके अलावा वह 10 साल तक कांग्रेस विधायक दल के नेता भी रहे. उन्होंने बिहार सरकार में ऊर्जा राज्यमंत्री और सिचाई का कार्यभार भी संभाला था. साल 2020 में वह विधानसभा चुनाव नहीं लड़े थे और उनकी जगह उनके बेटे शुभानंद मुकेश को टिकट दिया गया. हालांकि कहलगांव सीट से शुभानंद को जीत नहीं मिल सकी थी.

लेटेस्ट खबरों के लिये Boundaryline.in पर क्लिक करें. आप हमसे फेसबुक और ट्विटर के माध्यम से भी जुड़ सकते हैं

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *