Categories

September 27, 2022

Boundary Line Newsportal

News Innovate Your World

पंचतत्व में विलीन हुए रघुवंश प्रसाद सिंह, गांव वालों ने कहा, हमारा ‘गांधी’ चला गया

1 min read
Raghuvansh Prasad Singh Funeral

Raghuvansh Prasad Singh Funeral

महनार. पूर्व केंद्रीय मंत्री और वैशाली से पांच बार सांसद रहे रघुवंश प्रसाद सिंह (Raghuvansh Prasad Singh) सोमवार को पंचतत्व में विलीन हो गये. उनकी अंतिम यात्रा में जनसैलाब उमड़ पड़ा. रघुवंश ‘बाबू’ के पैतृक गांव पानापुर पहेमी (शाहपुर, महनार) में अंतिम दर्शन को सैकड़ों लोगों की भीड़ उमड़ पड़ी। नीतीश सरकार में मंत्री नीरज कुमार, आरजेडी नेता तेजस्वी यादव सहित कई मंत्री और विधायक अंतिम दर्शन को रघुवंश बाबू के पैतृक गांव पहुंचे.

सोमवार की सुबह हाजीपुर से उनके शव को सबसे पहले लालगंज लाया गया, लालगंज से वैशाली गढ़ होते हुए भगवानपुर, पढ़ेरी बेलसर, गोरौल, इमादपुर, खोपी गुरू चौक से सलहा महनार होते हुए पानापुर पहेमी उनके पैतृक आवास पहुंचा. जहां लोगों ने उन्हें श्रद्धांजलि दी. उनके गांव में अंतिम दर्शन के लिये सुबह से ही लोगों की भीड़ जुटी थी. गांव में शव के पहुंचते ही रघुवंश बाबू अमर रहे, हमारा गांधी चला गया जैसे नारे गूंजने लगे. एक घंटे के बाद गांव से शव को हसनपुर तीनमुहानी स्थित गंगा घाट ले जाया गया, जहां उनका अंतिम संस्कार किया गया. अंतिम संस्कार के दौरान भी हजारों लोगों की भीड़ गंगा घाट पर जमा हो गई. रघुवंश प्रसाद के छोटे पुत्र शशि शेखर ने उन्हें मुखाग्नि दी.

रघुवंश प्रसाद सिंह के पैतृक आवास पर अंतिम दर्शन को उमड़ा जनसैलाब, देखें वीडियो 

बता दें कि रविवार की सुबह रघुवंश प्रसाद सिंह (Raghuvansh Prasad Singh) का दिल्ली के एम्स में निधन हो गया था. रविवार की शाम उनका शव पटना लाया गया था. रघुवंश प्रसाद सिंह को चार अगस्त को सांस में तकलीफ की शिकायत के बाद दिल्ली एम्स में भर्ती कराया गया था.

रघुवंश बाबू की कहानी, गांव वालों की जुबानी

देखें वीडियो:

Leave a Reply

Your email address will not be published.