Categories

September 27, 2022

Boundary Line Newsportal

News Innovate Your World

BIRTHDAY SPECIAL: पाकिस्तानी मूल के इंग्लिश क्रिकेटर, पिता की एक सीख ने दिलाई शोहरत

1 min read
Moeen Ali

Moeen Ali (Photo- Twitter)

इंग्लैंड टीम के सफल ऑलराउंडर में गिने जाने वाले मोईन अली (Moeen Ali) आज यानि 18 जून को 33 साल के हो गये । मोईन अली (Moeen Ali) की सफलता की कहानी बड़ी कठिन रही है, महज 12 साल में क्रिकेट की ट्रेनिंग शुरू करने वाले इस क्रिकेटर को 27 साल की उम्र में इंटरनेशनल टीम में शामिल किया गया, यहीं नहीं टीम में शामिल होने के बाद भी इस खिलाड़ी की परेशानी कम नहीं हुई, लंबी दाढ़ी रखने की वजह से एक बार उन्हें अमर्यादित टिप्पणी का भी सामना करना पड़ा था। मगर इन सबके बाद भी इस क्रिकेटर ने अपने आप को साबित किया और कई बार अपने ऑलराउंड प्रदर्शन से टीम को जीत दिलाई ।

पिता के एक सीख ने बनाया क्रिकेटर
मोईन के पापा को क्रिकेट से बहुत लगाव था, वह चाहते थे कि उनका बेटा क्रिकेटर बने । 12 साल की उम्र से ही पिता ने मोईन के क्रिकेट की ट्रेनिंग शुरू कर दी । मगर मोईन क्रिकेट को लेकर बहुत सीरियस नहीं थे. एक दिन ट्रेनिंग पर जाने के दौरान उनके पापा ने उनसे कहा- अपने जीवन के अगले दो साल ईमानदारी से क्रिकेट को और मुझे दे दो, इसके बाद तुम्हारे मन में जो आए वो करना । मोईन ने पिता की बात मानी, दो साल पूरा होते-होते मोइन को इंग्लिश काउंटी क्रिकेट टीम वार्विकशायर के लिए चुन लिया गया। उस समय उनकी उम्र महज 15 साल की थी,  इसके बाद से वो लगातार प्रोफेशनल क्रिकेट खेल रहे हैं ।

2014 में इंटरनेशनल क्रिकेट टीम में मिली जगह
मोईन अली (Moeen Ali) को अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट खेलने के लिये काफी इंतजार करना पड़ा । 27 साल की उम्र में मोईन अली(Moeen Ali) ने फरवरी 2014 में वेस्टइंडीज (West indies) के खिलाफ डेब्यू किया था, वहीं टेस्ट में उन्हें इसी साल मौका मिला और जून 2014 में श्रीलंका (Srilanka) के खिलाफ मैदान में उतरे। मोईन अली (Moeen Ali) को मार्च 2014 में वेस्टइंडीज (West indies) के खिलाफ टी- 20 सीरीज में पहली बार मौका मिला था। तीन मैचों की इस सीरीज में मोईन अली ने एक अर्धशतक के साथ कुल 109 रन बनाये और तीन विकेट भी हासिल किया । इसके बाद उन्हें टी-20 वर्ल्ड कप के लिये भी टीम में शामिल कर लिया । साल 2017 में दक्षिण अफ्रीका की धरती पर जाकर इंग्लैंड ने 18 साल बाद टेस्ट सीरीज भी जीती और इस जीत के भी नायक रहे मोईन अली । मोईन अली (Moeen Ali) ने चार मैचों की सीरीज में 252 रन बनाए और 25 विकेट भी लिए । टेस्ट क्रिकेट के इतिहास में यह पहला मौका था, जब किसी खिलाड़ी ने चार मैचों की सीरीज में 250 से ज्यादा रन बनाने के साथ 25 विकेट भी चटकाए थे ।

पिता कश्मीरी तो मां ब्रिटिश:
मोईन अली (Moeen Ali) का जन्म इंग्लैंड के बर्मिंघम शहर में हुआ। मोईन के पिता मुनीर अली कश्मीर के मीरपुर से हैं। इंग्लैंड शिफ्ट होने के बाद ब्रिटिश महिला बैटी कोक्स से शादी कर ली थी। मोईन के दो भाई भी इंग्लैंड के क्रिकेट क्लब्स से खेलते हैं। उनके पिता मुनीर ने भी लोकल लेवल क्रिकेट पर खेला है ।

आत्मकथा में ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेटर पर लगाये थे गंभीर आरोप
मोईन अली (Moeen Ali) ने अपनी आत्मकथा में दावा किया था कि उन्हें 2015 की एशेज सीरीज (Ashes Series) के दौरान ऑस्ट्रेलिया के एक क्रिकेटर ने ओसामा तक कहा था। मोईन का दावा था कि कार्डिफ में खेले गए पहले टैस्ट मैच में एक ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ी मेरे पास आया। उसने कहा- इस चुनौती को स्वीकार करो ओसामा। मैंने जो सुना, मुझे उस पर विश्वास नहीं हुआ। मुझे याद है कि मैं गुस्से से लाल पीला हो गया था। मैं क्रिकेट मैदान पर कभी इतने गुस्से में नहीं रहा। इस किताब के कुछ अंश ब्रिटेन के एक अखबार में भी छपे थे।

मोईन अली का अंतर्राष्ट्रीय करियर:
मोईन अली (Moeen Ali) ने इंग्लैंड के लिये 60 टेस्ट, 102 वनडे और 28 टी- 20 मैच खेला है। टेस्ट में उनके नाम 2782 रन दर्ज है जिसमें उन्होंने पांच शतक और 14 अर्धशतक लगाया है । वहीं 102 वनडे में उन्होंने तीन शतक और पांच अर्धशतक के साथ 1783 रन बनाये हैं । 28 टी- 20 मैच में मोईन अली (Moeen Ali) के नाम 284 रन दर्ज हैं, टी- 20 मैच में एक अर्धशतक भी उनके नाम दर्ज है । मोईन अली (Moeen Ali) आईपीएल (IPL) में रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरू (Royal Challengers Bengluru) टीम के हिस्सा हैं । 16 आईपीएल (IPL) मैच में उन्होंने तीन अर्धशतक के साथ 297 रन बनाये हैं ।

Leave a Reply

Your email address will not be published.