Categories

September 26, 2022

Boundary Line Newsportal

News Innovate Your World

गरीब कल्याण योजना का लाभ अब नवंबर तक मिलेगा, 80 करोड़ गरीबों को मिलेगा मुफ्त अनाज

1 min read
pm narendra modi

pm narendra modi

पीएम मोदी ने गरीब कल्याण योजना का लाभ अब नवंबर तक दिये जाने की घोषणा की है। पीएम मोदी ने राष्ट्र को संबोधित करते हुए कहा कि कि 80 करोड़ लोगों को लाभ देने वाली इस योजना का लाभ अगले पांच महीने के लिये बढ़ा दिया गया है। इस योजना में गरीब परिवार को पांच किलो गेहूं/चावल, एक किलो चना मुफ्त दिया जायेगा।

पीएम ने कहा कि अनलॉक- 1 के दौरान काफी लापरवाही देखने को मिल रही है। कंटेनमेंट जोन में हमें विशेष ध्यान देना होगा। जो भी लोग नियमों का पालन नहीं कर रहे, हमें उन्हें टोकना होगा, रोकना होगा और समझाना भी होगा।

उन्होंने कहा कि एक और बड़ी बात है जिसने दुनिया को भी हैरान किया है, आश्चर्य में डुबो दिया है। वो ये कि कोरोना से लड़ते हुए भारत में, 80 करोड़ से ज्यादा लोगों को 3 महीने का राशन, यानि परिवार के हर सदस्य को 5 किलो गेहूं या चावल मुफ्त दिया गया, इसे अब नवंबर तक बढ़ाया जाता है। देश हो या व्यक्ति, समय पर फैसले लेने से, संवेदनशीलता से फैसले लेने से किसी भी संकट का मुकाबला करने की शक्ति बढ़ जाती है। इसलिए, लॉकडाउन होते ही सरकार, प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना लेकर आई। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना के इस विस्तार में 90 हजार करोड़ रुपए से ज्यादा खर्च होंगे। अगर इसमें पिछले तीन महीने का खर्च भी जोड़ दें तो ये करीब-करीब डेढ़ लाख करोड़ रुपए हो जाता है ।

पीएम मोदी ने कहा कि आज गरीब को, ज़रूरतमंद को, सरकार अगर मुफ्त अनाज दे पा रही है तो इसका श्रेय दो वर्गों को जाता है। पहला- हमारे देश के मेहनती किसान, हमारे अन्नदाता। और दूसरा- हमारे देश के ईमानदार टैक्सपेयर ।

पीएम ने कहा कि अब पूरे भारत के लिए एक राशन-कार्ड की व्यवस्था भी हो रही है यानि एक राष्ट्र, एक राशन कार्ड । इसका सबसे बड़ा लाभ उन गरीब साथियों को मिलेगा, जो रोज़गार या दूसरी आवश्यकताओं के लिए अपना गांव छोड़कर के कहीं और जाते हैं।

पीएम ने कहा कि हम सारी एहतियात बरतते हुए आर्थिक गतिविधियों को और आगे बढ़ाएंगे। हम आत्मनिर्भर भारत के लिए दिन रात एक करेंगे। हम सब ‘लोकल के लिए वोकल’ होंगे। इसी संकल्प के साथ हम 130 करोड़ देशवासियों को मिलजुल कर के, संकल्प के साथ काम भी करना है, आगे भी बढ़ना है। कोरोना संकट के बीच पीएम मोदी इससे पहले छह बार राष्ट्र के नाम संबोधन कर चुके हैं ।

Leave a Reply

Your email address will not be published.