Categories

September 26, 2022

Boundary Line Newsportal

News Innovate Your World

Up board Results: यूपी बोर्ड के 10वीं और 12वीं के नतीजे घोषित, लड़कियों ने मारी बाजी

1 min read
Up board results

Up board results

यूपी बोर्ड के दसवीं और बारहवीं के नतीजे (Up Board 10th and 12th Results) शनिवार को घोषित कर दिये गये।  परीक्षा में एक बार फिर लड़कियों ने मारी बाजी है। 10वीॆं और 12वीं दोनों परीक्षाओं में लड़कियों ने बाजी मारी है। दसवीं में 83.31 फीसदी जबकि 12वीं में 74.63 फीसदी परीक्षार्थी सफल हुए हैं । परीक्षार्थी Upresults.nic.in पर क्लिक कर अपने रिजल्ट देख सकते हैं। दसवीं की परीक्षा में बागपत की रिया जैन जबकि 12वीें की परीक्षा में बागपत के ही अनुराग मलिक ने टॉप किया था। दोनों टॉपर श्रीराम इंटर कॉलेज बडौत, बागपत के छात्र हैं। दसवीं की परीक्षा में लड़कियों का प्रतिशत 81.26 जबकि लड़कों का प्रतिशत 68.88 फीसदी है।

यूपी के डिप्टी सीएम और शिक्षा मंत्री दिनेश शर्मा ने लखनऊ में रिजल्ट जारी किया । ऐसा पहली बार हुआ है कि बोर्ड का रिजल्ट लखनऊ से जारी किया गया है, इससे पहले अब तक प्रयागराज स्थित यूपी बोर्ड मुख्यालय से ही रिजल्ट जारी किया जाता था ।

 

दसवीं के टॉपर: 

1. रिया जैन, श्रीराम इंटर कॉलेज बडौत, बागपत- 96.67 फीसदी

2. अभिमन्यु वर्मा, साईं इंटर कॉलेज, लखपरा, बाराबंकी- 95.83 फीसदी

3. योगेश प्रताप सिंह , सद्भावना इंटर कॉलेज, बाराबंकी- 95.33 फीसदी

 

बारहवीं के टॉपर

1. अऩुराग मलिक, श्रीराम इंटर कॉलेज बडौत, बागपत- 97 फीसदी

2. प्रांजल सिंह, एसपी इंटर कॉलेज कोरांव, प्रयागराज- 96 फीसदी

3. उत्कर्ष शुक्ला, गोपाल इंटर कॉलेज, औरैया- 94.80 फीसदी

 

यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ ने सभी सफल छात्र- छात्राओं को बधाई दी है । उन्होंने कहा कि कोविड संकट के बीच परिणाम पिछले साल के मुकाबले बेहतर रहा है। सीएम ने शिक्षा मंत्री सहित शिक्षा विभाग को परीक्षा को समय से कराने और रिजल्ट जारी के लिये भी तारीफ की। पहली जुलाई से छात्रों को मॉर्कशीट दी जायेगी, सरकार के गाइडलाइन के मुताबिक आगे छात्रों के पढ़ाई का इंतजाम होगा।

 

टॉपर्स के नाम पर होगा सड़क का नामाकरण:

यूपी के डिप्टी सीएम केशव मौर्य ने परीक्षा में टॉप करने वालों छात्रों को बड़ी सौगात दी है। केशव मौर्य ने कहा कि 20 टॉपर्स के घर तक सड़कों का निर्माण किया जायेगा और सड़कों का नामाकरण भी छात्रों के नाम पर होगा।

 

बता दें कि यूपी बोर्ड की दसवीं और बारहवीं कक्षा की परीक्षाएं इस साल 18 फरवरी में शुरू होकर 6 मार्च तक चली थी। कोरोना वायरस के कारण लॉकडाउन की घोषणा के चलते मूल्यांकन प्रक्रिया में देरी हुई, जिसकी वजह से इस साल रिजल्ट की घोषणा में भी देरी हुई है।

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.