Categories

September 27, 2022

Boundary Line Newsportal

News Innovate Your World

बिहार के पूर्णिया में दर्दनाक हादसा, घरेलू गैस सिलेंडर विस्फोट से पांच लोगों की मौत

1 min read
gas cylinder blast

पूर्णिया में गैस सिलेंडर ब्लास्ट

पूर्णिया. बायसी थाना क्षेत्र के खपड़ा पंचायत में मंगलवार को दर्दनाक हादसा हुआ। घरेलू गैस सिलेंडर के रिसाव से लगी आग से एक ही परिवार के सात लोग झुलस गये। हादसे में पांच लोगों की मौत हो गई, जबकि दो लोगों की हालत गंभीर है। गंभीर रूप से झुलसे लोगों का अस्पताल में इलाज चल रहा है। मृतकों में एक महिला, तीन लड़के और एक तीन साल की बच्ची शामिल हैं।

एक ही परिवार के पांच लोगों की मौत
जानकारी के अनुसार खपड़ा पंचायत के गवालगांव वार्ड संख्या 7 में वीरेंद्र यादव के घर घरेलू सिलेंडर लीक कर रहा था, अचानक लाइटर जलाते ही घर में आग लग गई और सिलेेंडर ब्लास्ट कर गया। आग की चपेट में आकर परिवार के सात लोग झुलस गये। सभी लोगों को आननफानन में इलाज के लिये अस्पताल ले जाया गया, जहां पांच लोगों की मौत हो गई। दो लोगों की हालत काफी गंभीर है। सभी लोगों की मौत पूर्णिया सदर अस्पताल में हुई है।

 

कोरोना पॉजिटिव मां की अर्थी को कंधा देने वाले पांच बेटे की मौत, छठे की भी हालत गंभीर

मृतकों में बेबी देवी, पिंटू यादव और तीन साल की प्रीति और बेबी देवी के दो बच्चे शामिल हैं। वहीं इस घटना के बाद परिजनों का रो- रोकर बुरा हाल है। इस दर्दनाक हादसे के बाद इलाके में सन्नाटा पसरा है।

 

ऐसे रखें ध्यान:
सिलेंडर में आग उसी जगह लगेगी जहां से LPG गैस का रिसाव हो रहा है। आग सिलेंडर की नॉब या फिर पाइप लीक होने वाली जगह पर ही लगेगी। एलपीजी गैस जिस डायरेक्शन में जा रही है आग भी उसी डायरेक्शन में लगेगी। गैस जिस हिस्से में फैलती जाएगी उसी हिस्से में आग भी लगती जाएगी। इसलिये सावधानी बरतने की जरूरत है। घबराने से कभी कभी स्थिति बिगड़ जाती है और नुकसान हो जाता है। आग लगने के बाद गैस सिलेंडर के ऊपर गीला कंबल या बैड सीट लपेट देने से भी आग बुझ जाती है. गैस सिलेंडर की नोजल से निकल रही आग को बुझाने के लिए सबसे पहले सिलेंडर को टेढ़ा कर बाहर फेंक देना चाहिए या उसको पानी में डुबो देना चाहिए ।

Leave a Reply

Your email address will not be published.